‘भारतीय पत्रकारिता का कल और आज’ विषय पर एक दिवसीय वेबिनार आयोजित

पत्रकारिता ने हमेशा जिम्मेदारियों को समझा है: डॉ सुमित कुमार पाण्डेय

रोहतास पत्रिका/सासाराम:

रोहतास जिलें के स्थानीय जमुहार स्थित गोपाल नारायण सिंह विश्वविद्यालय के पत्रकारिता एवं जनसंचार विभाग द्वारा “भारतीय पत्रकारिता का कल और आज” विषय पर एक राष्ट्रीय वेबिनार का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में जुड़े मेवाड़ विश्वविद्यालय राजस्थान के मीडिया विभाग के विभागाध्यक्ष डॉ सुमित कुमार पाण्डेय ने कहा कि भारतीय पत्रकारिता ने हर युग में अपने कर्तव्य का पालन किया है परन्तु मुट्ठी भर लोगों के कारण आज यह संदेह की स्तिथि में है।

उन्होंने हिक्की गजट से लेकर आज तक की पत्रकारिता पर प्रकाश डाला और नई पीढ़ी से इस बात के लिए आह्वान किया कि आज नए कलम में नई स्याही से नया इतिहास लिखने की जरूरत है। यह तभी संभव है जब युवा पीढ़ी आगे चलकर आएगी। डॉ पाण्डेय ने पत्रकारिता के इतिहास की व्याख्या करते हुए उसके सभी बिन्दु पर बारीकी से अपने पक्ष को रखा।

इस मौके पर गोपाल नारायण सिंह विश्वविद्यालय, जमुहार के कुलपति प्रो एम एल वर्मा एवं सचिव गोविन्द नारायण सिंह ने तकनीकी माध्यम से पत्रकारिता के छात्रों को बधाई देते हुए कहा कि पत्रकारिता का आने वाला कल और आज दोनों आपके हाथ में है अतः इसका मान बनाये रखने का हमेशा प्रयास करें।

कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए विभागाध्यक्ष डॉ अमित मिश्रा ने कहा कि वर्तमान की पत्रकारिता को तेज धार की जरूरत है। जिसमें सच लिखने की ताकत हो वो लोकतंत्र में कलम का सिपाही बन सकता है। उन्होंने हरिशंकर परसाई की पंक्तियों को दोहराते हुए कहा कि सत्य को भी प्रचारित करने की जरूरत है नही तो वह मिथ्या मान कर मृत्तप्रायः हो जाता है। अतः पत्रकारिता को नई पीढ़ी की जरूरत है।

कार्यक्रम का संचालन विभाग की असिस्टेन्ट प्रोफेसर फेहमीन हुसैन ने किया और धन्यवाद ज्ञापन असिस्टेंट प्रोफेसर मुकुन्द कुमार ने किया। इस मौके पर विभाग के छात्र दीपक राज, हर्षिता सिंह, विशाल सिंह, संजय कुमार, अर्चना कुमारी, नरोत्तम कुमार, अनु कुमारी, आर्यन बाबू, प्रेरणा सुमन, रुचि कुमारी, श्रेया कुमारी, आयुष राज, अमन मिश्र आदि ने भाग लिया।