बिहार: बढ़ती महंगाई एवं अपराध के खिलाफ जनता पार्टी की एक दिवसीय धरना प्रदर्शन

dharna pardarshan in patna bihar by janta party
- धरना प्रदर्शन में शामिल पार्टी के कार्यकर्त्ता।

रोहतास पत्रिका/पटना:

जागरूक जनता पार्टी के बिहार प्रदेश संयोयक आलोक कुमार के नेतृत्व में पटना के गर्दनीबाग धरना स्थल पर एक दिवसीय धरना प्रदर्शन का आयोजन किया गया। इस धरना प्रदर्शन में पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ. मिथिलेश चौबे भी धरना में शामिल हुए। श्री चौबे ने प्रदर्शन को सम्बोधित करते हुए कहा कि बिहार में बहार की बात करने वाले मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के नेतृत्व में बेरोजगार, भ्र्ष्टाचार, लूट, हत्या, बलात्कार बढ़ रहा है शराब माफिया और अपराधी फल फूल रहे है।

इन्ही को बढ़ावा देने के लिए एक नया कानून भी आया है ताकि स्वक्ष छवि के नवजवान धरना प्रदर्शन से दूर रहे। पेशेवर अपराधी छवि के लोग ही निर्भीक हो कर धरना प्रदर्शन कर सके। शरीफ व्यक्ति माध्यम वर्ग के नवजवान को इस कानून से इतना डराया गया है कि लोग कमाने खाने में व्यस्त रहे डर के मारे विरोध नहीं करे। आवाज को दबाने की यह तरीका अभी फिल्म के टेलर के रूप में लागू किया गया है, पूरी फिल्म बाकी है।

सिकंदर ने कहा कि पेट्रोल, डीजल और रसोई गैस के दामों में निरंतर बढ़ोतरी हो रही है। महंगाई ने आम आदमी की कमर तोड़ दी है। नेताओं ने मांग की है कि केंद्रीय करों में कटौती कर महंगाई पर नियंत्रण किया जाए। कृषि कानूनों के बारे में उन्होंने कहा कि किसान 100 दिनों से काले कृषि कानूनों के विरुद्ध प्रदर्शन कर रहे हैं, लेकिन उनकी कोई सुनवाई नहीं हो रही। इन कृषि कानूनों को तुरंत वापिस लिया जाए। यदि ऐसा नहीं किया जाता है तो जागरूक जनता पार्टी के कार्यकर्तागण सड़कों पर उतर कर प्रदर्शन करेगी।

बिहार सरकार बिहारियों को न्याय सुरक्षा सम्मान रोजगार दे कर अपराध मुक्त बना सकती है। सरकार इससे अपराध पर भी नियंत्रण पा सकती है। सरकार को इसके लिए व्यापक कदम उठाकर विकसित बिहार बनाना चाहिए। अगर सरकार ऐसा नहीं करती तो समझिए जागरूक जनता पार्टी के नेतृत्व में विजयी विश्व बिहार बनाने के लिए जन आंदोलन होगा। आज के धरना प्रदर्शन में संजय प्रसाद श्रीवास्तव, रामनरेश सिंह, पुपुल शर्मा , शिकन्दर कुमार, सरवर बाकर, धीरेन्दर पांडेय, राकेश सिंह, विकि सिंह, सी डॉ. संजय कुमार झा, ब्रम्हदेव कुमार यादव, समीम अंसारी, उदय पांडेय, आदित्य राज, डॉ अमरेश श्याम, अनिल कुमार, सरस्वती सिंह, रंभा सिंह, सतीश सूर्यवंशी, नीलम कुमारी आदि शामिल हुए।